मनोरंजन Entertainment

वजन घटाने वाली सर्जरी में वृद्धि

कोलकाता, 25 जुलाई : देश में मधुमेह और मोटापा के मामले में वृद्धि के कारण वजन घटाने वाली सर्जरी (बेरिएट्रिक सर्जरी) की मांग काफी बढ़ रही है। यह बात एक विशेषज्ञ ने कही। आईएलएस अस्पताल के सलाहकार बेरिएट्रिक एवं मेटाबोलिक सर्जन ओम टांटिया ने यहां कहा, "बेरिएट्रिक सर्जरी की मांग काफी ज्यादा है। यह ओबेसिटी और मधुमेह के मामलों में वृद्धि का संकेतक है।"


भारत मधुमेह रोगियों वाला दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है। यहां अनुमानित 6.1 करोड़ लोग इस रोग से पीड़ित हैं। करीब 14 करोड़ लोग उच्च रक्तचाप से ग्रस्त हैं, जो रक्तचाप से ग्रस्त विश्व के समस्त लोगों की संख्या का 14 फीसदी है।

बेरिएट्रिक सर्जरी में पेट का ऑपरेशन किया जाता है और एक लंबी अवधि में वजन कम हो जाता है।

टांटिया ने कहा, "इस सर्जरी का लाभ यह है कि रोगियों में मधुमेह की समस्या का समाधान हो जाता है और अत्यधिक मोटे व्यक्तियों के वजन में 70 से 80 फीसदी तक गिरावट आ जाती है।"

जो लोग अन्य तरीके से मोटापा नहीं घटा सकते हैं, उनके लिए बेरिएट्रिक सर्जरी सबसे अच्छा विकल्प है।

टांटिया ने कहा कि इसका सबसे अधिक लाभ वे लोग उठा रहे हैं, जिनका वजन बॉडी मास सूचकांक के आदर्श वजन से 30 से 40 किलो अधिक है।

--IANS

मनोरंजन Entertainment headlines

  • कैटरीना को मैंने मजाक में भाभी बताया था : करीना
  • विवाहिता अभिनेत्रियों को भी मिलता है काम : माधुरी
  • किंगफिशर कैलेंडर को लांच करेंगे अभिषेक
  • तृषा बनीं सीसीएल टीम चेन्नई राइनोज की एम्बेसडर
  • हर शुक्रवार स्वयं को साबित करने की जरूरत : अभिषेक
  • मेरी फिल्म में रजनीकांत नहीं हैं : रविकुमार
  • तमिल सिनेमा : नवीन विपणन शैली ने मचाया धूम
  • Comments

    Required fields are marked *

    Back to Top