मनोरंजन Entertainment

हिट एंड रन मामले में सलमान पर गंभीर आरोप तय

मुंबई, 24 जुलाई : अभिनेता सलमान खान को एक बड़ा धक्का तब लगा, जब मुंबई के एक सत्र न्यायालय ने बुधवार को औपचारिक रूप से खान पर 2002 के हिट एंड रन मामले में गैर इरादतन हत्या का आरोप तय कर दिया।


अदालत ने कहा कि सलमान पर भारतीय दंड संहिता की धारा 304 (तीन) के तहत सुनवाई की जाएगी। यदि सलमान पर आरोप सिद्ध होता है तो उन्हें कम से कम 10 साल के कारावास की सजा हो सकती है। मामले की अगली सुनवाई 16 अगस्त को होगी।

बहरहाल सलमान (47 वर्ष) ने सत्र न्यायाधीश यू.बी. हजीब द्वारा खुद पर लगाए गए आरोपों का दोषी होने से इंकार कर दिया।

उनके ऊपर जो अन्य आरोप लगाए गए हैं, उनमें आईपीसी की धारा 279 (लापरवाही के कारण मौत), और धारा 337,338,427 और वाहन कानून के तहत हैं।

बहरहाल, अदालत ने सुनवाई के लिए निजी उपस्थिति से छूट देने की सलमान की याचिका मंजूर कर ली। सत्र न्यायाधीश ने सलमान से कहा कि जब भी अदालत को जरूरत होगी, उन्हें न्यायालय में उपस्थित होना होगा। इसके साथ ही न्यायाधीश ने उन पर लगे आरोपों को पढ़ा।

इससे पहले महानगरीय दंडाधिकारी द्वारा मामले की सुनवाई में सलमान पर धारा 304 ए के तहत लापरवाही और तेज रफ्तार से गाड़ी चलाने के हल्के आरोप तय किए गए थे, जिसके अंतर्गत अधिकतम दो साल की जेल हो सकती है।

हालांकि बाद में 17 गवाहों के बयानों को देखते हुए दंडाधिकारी ने उन पर धारा 304 (तीन) के तहत गैर इरादतन हत्या के गंभीर आरोप तय किए। सलमान ने इस फैसले को चुनौती देते हुए सत्र न्यायालय में अपील की थी।

वर्ष 2002 की 28 सितंबर को तड़के मुंबई के बांद्रा इलाके में सलमान ने नशे की हालत में गाड़ी चलाते हुए अपनी लैंड क्रूजर फुटपाथ पर सो रहे लोगों पर चढ़ा दी थी, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और चार घायल हो गए थे।

--IANS

मनोरंजन Entertainment headlines

  • कैटरीना को मैंने मजाक में भाभी बताया था : करीना
  • विवाहिता अभिनेत्रियों को भी मिलता है काम : माधुरी
  • किंगफिशर कैलेंडर को लांच करेंगे अभिषेक
  • तृषा बनीं सीसीएल टीम चेन्नई राइनोज की एम्बेसडर
  • हर शुक्रवार स्वयं को साबित करने की जरूरत : अभिषेक
  • मेरी फिल्म में रजनीकांत नहीं हैं : रविकुमार
  • तमिल सिनेमा : नवीन विपणन शैली ने मचाया धूम
  • Comments

    Required fields are marked *

    Back to Top