मनोरंजन Entertainment

टीवी कलाकारों को फिल्म कलाकारों जैसी सुविधा नहीं मिलती : कविता

मुंबई, 24 जुलाई : छोटे पर्दे की अभिनेत्री कविता कौशिक का मानना है कि टीवी कलाकारों का काम और उनकी जिंदगी फिल्म कलाकारों की तुलना में ज्यादा संघर्षपूर्ण और कठिन होती है।


कविता ने हाल ही में धारावाहिक 'एफ. आई. आर.' में वापसी की है। कविता (32) ने 'एफ. आई. आर.' के सेट पर कहा, "टीवी कलाकारों के जीवन में बहुत सारी मुश्किलें होती हैं। यहां कोई कोरियोग्राफर नहीं होता, हमें बहुत कम समय में सब कुछ खुद से करना होता है। एक तरह से यह टेलीविजन की खास बात भी है।"

उन्होंने कहा, "लोगों में टीवी से ज्यादा फिल्मों का क्रेज है। पर मेरा कहना है कि टीवी कलाकार कुछ ही मिनटों में बहुत कुछ कर जाते हैं। हम दिनभर में आठ से दस दृश्य फिल्माते हैं।"

धारावाहिक 'एफ. आई. आर.' में इंस्पेक्टर चंद्रमुखी चौटाला की कविता की भूमिका लोकिप्रय और मशहूर हुईं। जनवरी में उन्होंने यह धारावाहिक छोड़ दिया था, लेकिन फिर से इसमें वापस आ गई हैं।

कविता की इच्छा है कि किसी दिन उन्हें पर्दे पर पत्रकार की भूमिका निभाने को मिले। उन्होंने कहा, "मैंने पत्रकार की भूमिका नहीं निभाई है। जल्द ही मैं पत्रकार की भूमिका में भी नजर आऊंगी।"

कविता आने वाली फिल्म 'जंजीर' में एक आइटम गीत में भी नजर आनेवाली हैं।

--IANS

मनोरंजन Entertainment headlines

  • कैटरीना को मैंने मजाक में भाभी बताया था : करीना
  • विवाहिता अभिनेत्रियों को भी मिलता है काम : माधुरी
  • किंगफिशर कैलेंडर को लांच करेंगे अभिषेक
  • तृषा बनीं सीसीएल टीम चेन्नई राइनोज की एम्बेसडर
  • हर शुक्रवार स्वयं को साबित करने की जरूरत : अभिषेक
  • मेरी फिल्म में रजनीकांत नहीं हैं : रविकुमार
  • तमिल सिनेमा : नवीन विपणन शैली ने मचाया धूम
  • Comments

    Required fields are marked *

    Back to Top